उन्नाव बलात्कार मामले की जांच सीबीआई को सौंपने का फैसला किया योगी सरकार ने - bjp mla surendra singh controversial statement on unnao rape case

नई दिल्ली: योगी आदित्यनाथ सरकार ने उन्नाव बलात्कार मामले की जांच सीबीआई को सौंपने का फैसला किया, जिसमें भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर का नाम आरोपी के रूप में शामिल है. वहीं बरेली के बैरिया से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने इस पूरे मामले में बेहद शर्मनाक बयान दिया है.



उन्होंने कहा कि तीन बच्चों की मां का कोई बलात्कार नहीं कर सकता. ये विधायक कुलदीप सेंगर के ख़िलाफ़ साज़िश है. वहीं आरोपी विधायक की पत्नी ने कहा है कि लड़की झूठ बोल रही है. कोई बलात्कार नहीं हुआ है. मेरे पति निर्दोष हैं. दोनों का नार्को टेस्ट करा लिया जाए, जिससे सच सामने आ जाएगा.

उन्नाव केस में SIT ने डीजीपी और प्रिंसिपल सेक्रेटरी (होम) को रिपोर्ट सौंप दी है. रिपोर्ट में बलात्कार और पीड़ित लड़की के पिता की मौत की विस्तृत जानकारी दी गई है. SIT ने अपनी रिपोर्ट में पुलिस की लापरवाही और ग़ैर ज़िम्मेदारी बताई है. SIT रिपोर्ट के बाद विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ FIR दर्ज होगी. साथ ही मामले की जांच सीबीआई से कराई जाएगी. वहीं इस मामले में चीफ़ मेडिकल सर्जन डॉ डीके द्विवेदी और सफ़ीपुर के सीओ कुंवर बहादुर को सस्पेंड कर दिया गया है.


वहीं आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर देर रात सरेंडर करने की खबरों के बीच लखनऊ में एसएसपी ऑफिस अपने कई समर्थकों के साथ गाड़ियों के लाव लश्कर के साथ पहुंचे. वहां मीडिया से बातचीत में विधायक ने कहा कि मीडिया जहां बोलेगी वहां आऊंगा, लेकिन उसके बाद वो सरेंडर किए बिना ही समर्थकों के साथ वापस लौट गए.
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment