हीरो और हिरोइन के बीच की असमानता पर बात की प्रियंका चोपड़ा ने - priyanka chpora said on racism they said i have a wrong physicality

नई दिल्ली: बॉलीवुड के बाद हॉलीवुड में अपनी पहचान बनाने वाली एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा ने हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में हीरो और हिरोइन के बीच की असमानता पर बात की. दरअसल, पिछले साल हॉलीवुड में #MeToo कैंपेन की शुरुआत हुई थी जिसमें हॉलीवुड एक्ट्रेस ने अपने हक की मांग की थी और इंडस्ट्री में सालों से होते आ रहे यौन शोषण के खिलाफ अवाज उठाई थी. जिसके बाद अब प्रियंका ने भी इस इंडस्ट्री में रंग के आधार पर और बड़े मेल एक्टर और फीमेल एक्टर के बीच किए जाने वाली असामनता पर भी बात की.

दरअसल, प्रियंका चोपड़ा ने हाल ही में इंटरनेशनल मैगजीन इनस्टाइल को एक इंटरव्यू दिया है. इस इंटरव्यू में उनसे जब पूछा गया कि महिला या पुरुष के काम के लिए जब समान भुगतान की बात आती है तो इसमें हॉलीवुड का व्यवार कैसा है? इसका जवाब देते हुए प्रियंका ने कहा, 'मैं एक फिल्म के काम से बाहर गई हुई थी, तब स्टुडियो से किसी ने कॉल किया और मेरे एक एजेंट को कहा, उनकी फिजिकैलिटी सही नहीं है. इसके बाद जब मेरे एजेंट ने मुझे बताया कि फिजिकैलिटी से उनका क्या मतलब है? क्या मुझे शेप में आना चाहिए या मुझे एब्स बनाने होंगे. आखिर फिजिकैलिटी का सही मतबल क्या है? तब मेरे एजेंट ने कहा, प्रियंका उनका मतलब था कि कोई ऐसा शख्स जिसका रंग इतना गहरा न हो. इससे मुझे फर्क पड़ा'.


प्रियंका ने इस इंटरव्यू में लैंगिक आधार पर इंडस्ट्री में होने वाली असमानता की भी बात की. उन्होंने कहा, अमेरिका में भी ऐसा होता है लेकिन वहां हम इस बारे में ज्यादा खुले तौर पर बात नहीं करते हैं लेकिन इंडिया में तो हम इस बारे में इस तरह से भी बात नहीं करते हैं. मुझे साफ तौर पर बताया गया था कि अगर बड़े एक्टर के साथ कोई महिला काम करती है तो फिल्म में उसकी ज्यादा अहमियत नहीं होती है. गौरतलब है कि प्रियंका इन दिनों अपनी जल्द शुरू होने वाली अमेरिकन सीरीज क्वांटिको की शूटिंग में बिजी हैं. 
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment