सूरत रेप मामले में बच्ची के शरीर के ज़ख़्म एक हफ़्ते के दौरान के हैं - surat rape and murder of minor police transfer case to cbi

नई दिल्ली: निर्भया मामले के बाद एक कठोर कानून लागू तो हुआ लेकिन बलात्कार जैसे अपराध अभी भी कम होते नहीं दिखते. सूरत में 11 साल की एक बच्ची से रेप के बाद उसकी हत्या कर दी गई, जिसका शव दस दिनों बाद बरामद किया गया. लेकिन अभी तक अपराधी पकड़ से दूर है, मामले को अब सीबीआई के हवाले कर दिया गया है.



पहले कठुआ और फिर सूरत कम से कम 18 दिन तक उसके गुम होने की कोई खबर नहीं थी. अब पुलिस ने बच्ची की पहचान में मदद के लिए अपील जारी की है, जिसकी उम्र 9 से 13 साल बताई जाती है. वही बच्‍ची के शव को शवगृह में रखा गया है. अब बच्ची से की गई क्रूरता की और जानकारियां सामने आ रही है.

सूत्रों के मुताबिक, शरीर के ज़ख़्म एक हफ़्ते के दौरान के हैं. यानी बच्ची को हफ़्ते भर टार्चर किया गया. पुलिस सूत्रों के मुताबिक, उन्होंने मासूम बच्ची की पहचान को लेकर सारे कंट्रोल रूम्स को अलर्ट कर रखा है.



गुजरात और पड़ोसी राज्यों की गुमशुदगी से जुड़ी 8000 शिकायतों को खंगाला जा रहा है. उस जगह के डेढ़ किलोमीटर के दायरे में चारों तरफ घर घर सर्वे किया जा चुका है. पुलिस को शक है कि अपराध कहीं और किया गया लिहाजा अपराधियों के सुराग के लिए सीसीटीवी फुटेज तलाशे जा रहे हैं.



इस बीच रविवार को दूसरे शहरों की तरह सूरत में भी विरोध प्रदर्शन हुए  लोगों की बढ़ती नाराजगी को देखते हुए गुजरात सरकार ने मामले को सीबीआई को सौंप दिया है.
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment