कर्नाटक: नाराज जारकीहोली बोले- अब मंत्री नहीं बनना, वफादार कांग्रेसियों को कैबिनेट पहुंचाना है- congress-mla-jarkiholi-eyes-getting-his-men

बेंगलुरु : अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के सचिव सतीश जारकीहोली ने कहा है कि वह अपनी पार्टी के नेताओं की तरफ से किसी पेशकश को स्वीकार नहीं करेंगे बल्कि सक्षम वफादार कांग्रेस नेताओं के लिए मंत्री पद की पैरोकारी करेंगे। साथ ही उन्होंने दो टूक कहा कि वह पार्टी नहीं छोड़ेंगे बल्कि पार्टी के अंदर लड़ाई जारी रखेंगे। बताया जाता है कि जारकीहोली मंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज चल रहे हैं। जारकीहोली ने कहा,' मैं कोई पेशकश स्वीकार नहीं करूंगा। मैं एक विधायक के तौर पर पार्टी के लिए काम करूंगा। मेरा एकमात्र उद्देश्य मंत्री बनना नहीं है। पहले भी मैंने काम किया है लेकिन मंत्री पद के लिए काम नहीं किया है।' पढ़ें- मंत्रिमंडल में खाली पदों को भरने के लिए जल्द राहुल से चर्चा: खड़गे बता दें कि कर्नाटक कैबिनेट के विस्तार के कारण कांग्रेस और जेडी(एस) में मंत्री पद नहीं पाने वाले कई विधायक असंतुष्ट चल रहे हैं। जारकीहोली भी मंत्री पद नहीं मिलने से नाराज बताए जा रहे हैं। हालांकि उन्होंने कहा कि वह पार्टी नहीं छोड़ेंगे। जारकीहोली ने कहा, 'मैं पार्टी नहीं छोड़ूंगा बल्कि पार्टी के अंदर लड़ाई जारी रखूंगा। मैं चाहता हूं कि कांग्रेस के जो नेता वर्षों से वफादार रहे हैं उन्हें मंत्री पद मिलना चाहिए।' यह पूछने पर कि बादामी में पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के लिए जीत में भूमिका निभाने के बाद उन्हें मंत्री पद क्यों नहीं मिलना चाहिए जारकीहोली ने कहा, 'यह सही है लेकिन इस बारे में कुछ नहीं किया जा सकता है। पार्टी को इसमें रूचि नहीं है तो हम क्या कर सकते हैं।'
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment