चॉकलेट देने पर समझा बच्चा चोर, पीट-पीटकर ली एक की जान- youths-give-chocolate-to-kid-anger-villagers-one-died

बीदर : कर्नाटक के बीदर में बच्चा चोरी की अफवाह में एक शख्स की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। शुक्रवार शाम को अजाम (27) नाम के एक शख्स को बच्चा चोर समझकर कुछ गांवावालों ने उसकी पीट-पीटकर हत्या कर दी। पत्थर और लाठी-डंडों से किए गए इस हमले में अजाम समेत उसके दो साथी भी घायल हुए। हैदराबाद के रहने वाले अजाम और सलमान के साथ उनका दोस्त सलाहम कतर से यहां अपने एक दोस्त से मिलने आए थे। अपने दोस्त बशीर के घर पर घाना खाने के बाद दोनों वापस लौट रहे थे। रास्ते में कुछ बच्चे खेलते दिखे, तो सलाहम ने उन्हें कतर से लाई हुई चॉकलेट देनी चाही। हालांकि चॉकलेट का रैपर कुछ अलग होने पर बच्चों ने उसे लेने से इनकार कर दिया। सलाहम ने जब जिद करके एक बच्ची को चॉकलेट देनी चाही तो वह रोने लगी। आसपास मौजूद गांववालों ने बच्ची को रोता देख युवक को घेर लिया और उसे गालियां देने लगे। अचानक ही कुछ गांववालों ने तीनों पर हमला कर दिया और पीटने लगे। कुछ युवकों ने यह अपने फोन में रिकॉर्ड कर लिया और पास के गांवों में अपने दोस्तों को भी भेज दिया। जब इन तीनों युवकों ने वहां से भागने की कोशिश की, तो पास के गांव के कुछ लोगों ने उनका रास्ता रोक लिया। आधे घंटे के अंदर वहां करीब 2000 लोग इकट्ठा हो गए, जिन्होंने लाठी-डंडों से युवकों को पीटना शुरू कर दिया। बीदर के एसपी डी देवराजू ने हमारे सहयोगी टाइम्स ऑफ इंडिया से बताया कि पुलिस ने बीच-बचाव करने की कोशिश की और उन्हें बताया कि ये लोग बच्चा चोर नहीं हैं, मगर गांववालों ने कुछ नहीं सुना। युवकों को बचाने के दौरान एक इंस्पेक्टर और एक कॉन्स्टेबल भी घायल हो गए। मॉब लिंचिंग ने 3 महीने में लीं कई जानें मॉब लिंचिंग का यह कोई पहला मामला नहीं है। खबरों के मुताबिक, मई से जुलाई 2018 के बीच भारत के विभिन्न हिस्सों में 14 अलग-अलग घटनाओं में कम से कम 24-25 लोग मारे गए हैं। हालांकि, राष्ट्रीय अपराध रेकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) इस तरह के मामलों का अलग से लेखा-जोखा नहीं रखता है, लेकिन भीड़ द्वारा हत्या तथा कानून को अपने हाथ में लेने की घटनाएं बढ़ रही हैं।
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment