इंजिनियर पर कीचड़ फेंकवाने वाले कांग्रेस MLA नितेश राणे गिरफ्तार, पिता बोले- माफी मांगनी चाहिए

सिंधुदुर्ग/मुंबई: मध्य प्रदेश के 'बैटमार' विधायक के बाद अब महाराष्ट्र में कांग्रेस विधायक द्वारा कीचड़ फेंकने के मामले ने जोर पकड़ लिया है। विवाद बढ़ने के बाद भारी दबाव में महाराष्ट्र के पूर्व सीएम और राज्यसभा सांसद नारायण राणे के बेटे नितेश राणे ने कंकावली थाने में सरेंडर कर दिया। सिंधुदुर्ग के एसपी दीक्षित गेदम ने बताया कि नितेश राणे और उनके दो समर्थकों को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है। आरोपियों को शुक्रवार को कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा। राणे समेत उनके करीब 40-50 समर्थकों के खिलाफ आईपीसी की धारा 353, 342, 332, 324, 323, 120(A), 147, 143, 504, 506 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। पिता बोले, माफी मांगनी होगी वहीं, दूसरी तरफ पूर्व सीएम नारायण राणे ने भी अपने बेटे के इस व्यवहार पर नाराजगी जताई है। पूर्व सीएम ने कहा, 'हाइवे के लिए प्रदर्शन ठीक है लेकिन हिंसा पूरी तरह गलत है। उन्होंने कहा, 'यदि एक पिता बगैर गलती के माफी मांग सकता है तो बेटे को माफी मांगनी पड़ेगी' आपको बता दें कि नितेश राणे गुरुवार को मुंबई-गोवा राजमार्ग के पास बने एक पुल का निरीक्षण करने पहुंचे थे। इसी दौरान उन्होंने पुल के इंजिनियर प्रकाश शेडकर के साथ बदसलूकी की। इसके बाद समर्थकों के साथ मिलकर राणे ने इंजिनियर पर बाल्टी से कीचड़ डलवा दिया। आरोप है कि नितेश ने समर्थकों की मदद से इंजिनियर को पुल से बांध भी दिया। 'हाथ में डंडा लेकर करूंगा निगरानी' इस पूरी घटना का एक विडियो सामने आने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। इसके बाद भी नितेश ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'अब से मैं हाथ में एक डंडा लेकर इस हाइवे की रिपेयरिंग के काम की पड़ताल करूंगा। हर रोज सुबह 7 बजे मैं यहां आऊंगा और देखता हूं कि सरकार हमसे कैसे जीतती है। मेरे पास ऐसे अहंकारी लोगों से निपटने की दवा मौजूद है।' पिता ने बेटे के व्यवहार को बताया गलत हालांकि नितेश के पिता और राज्यसभा सांसद नारायण राणे ने इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, 'नितेश का यह व्यवहार गलत है। भले ही हाइवे के लिए उनका विरोध जायज हो, लेकिन उनके समर्थकों द्वारा किसी भी प्रकार की हिंसा को सही नहीं कहा जा सकता है। मैं इसका बिल्कुल भी समर्थन नहीं करता।' इस सवाल पर कि क्या वह नितेश राणे को माफी मांगने के लिए कहेंगे, नारायण राणे ने कहा, 'मैं उसे माफी मांगने के लिए क्यों नहीं कहूंगा। वह मेरा बेटा है और अगर उसके पिता बिना गलती के माफी मांग सकते हैं तो बेटे को भी गलती के लिए माफी मांगनी होगी।'
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment