मैं अब चीफ नहीं हूं, कांग्रेस जल्द चुने नया अध्यक्ष

लोकसभा चुनाव 2019 में मिली करारी शिकस्त के बाद राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के फैसले पर कायम हैं. राहुल ने बुधवार को एक बार फिर साफ किया कि वह अब पार्टी प्रेसिडेंट नहीं हैं. कांग्रेस को जल्द से जल्द नया अध्यक्ष चुन लेना चाहिए. राहुल गांधी ने News18 से बातचीत के दौरान ये बयान दिया. उन्होंने कहा, 'मैंने पहले कई मौकों पर बता दिया है कि मैं अब पार्टी का अध्यक्ष नहीं हूं. इसलिए नए अध्यक्ष के चुनाव में मेरी कोई भूमिका नहीं है. ये फैसला कांग्रेस कार्यसमिति को ही करना है. मैं चाहता हूं कि पार्टी जल्द से जल्द नया अध्यक्ष चुन ले.' इसके साथ ही राहुल गांधी ने एक ट्वीट करके बताया है कि वह अध्यक्ष पद क्यों छोड़ रहे हैं. ट्वीट में राहुल गांधी ने लिखा है कि 2019 के आम चुनाव में हार की जिम्मेदारी उनकी है और कांग्रेस के भविष्य के लिए जवाबदेही जरूरी है.राहुल की इस बात के बाद तय है कि कांग्रेस का अगला अध्यक्ष नेहरू-गांधी परिवार से बाहर का होगा, क्योंकि कांग्रेस के तमाम नेताओं और कार्यकर्ताओं की विनती का असर राहुल गांधी पर होता नहीं दिख रहा है. अब उम्मीद है कि जल्द ही कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक बुलाई जाएगी और नए अध्यक्ष के नाम पर मुहर लग जाएगी. अध्यक्ष पद की दौड़ में शामिल हैं ये नेता पार्टी सूत्रों के मुताबिक नए अध्यक्ष की दौड़ में सुशील कुमार शिंदे, अशोक गहलोत, कुमारी शैलजा, सचिन पायलट, मल्लिकार्जुन खड़गे सहित कई नाम चर्चा में हैं. सूत्रों का दावा है कि शिंदे और गहलोत के नाम पर गंभीरता से विचार हो रहा है और इनमें से किसी एक को कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया जा सकता है. बता दें कि लोकसभा चुनाव में हार के बाद राहुल गांधी ने 25 मई को कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में इस्तीफा दे दिया था. राहुल ने कार्यसमिति से नेहरू-गांधी परिवार के बाहर का अध्यक्ष चुनने की गुजारिश की थी. हालांकि राहुल को मनाने के लिए कांग्रेस में न सिर्फ इस्तीफों का दौर शुरू हुआ बल्कि धरना और प्रदर्शन भी हुआ, लेकिन राहुल अपने फैसले पर अडिग नजर आ रहे हैं.
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment