फरीदाबाद के DCP विक्रम कपूर ने गोली मारकर की आत्महत्या- Loktantra Ki Buniyad

फरीदाबाद: फरीदाबाद के डेप्युटी कमिश्नर ऑफ पुलिस विक्रम कपूर ने गोली मारकर आत्महत्या कर ली। कपूर ने अपने आवास में ही खुदकुशी की। अभी तक खुदकुशी के कारणों का पता नहीं चल सका है। पुलिस ने फिलहाल मृत शरीर को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और घटनास्थल की फरेंसिक जांच हो रही है। पिछले 2 साल से वह फरीदाबाद में पोस्टेड थे और एक साल बाद ही उनका रिटायरमेंट था। ड्राइंगरूम में ही डीसीपी कपूर ने की थी आत्महत्या डीसीपी एनआईटी विक्रम कपूर ने बुधवार सुबह पुलिस लाइन में अपने आवास पर गोली मारकर आत्महत्या कर ली है। डीसीपी ने गोली अपनी सर्विस रिवाल्वर से करीब 5.45 बजे मुंह के अंदर मारी है, जो खोपड़ी में ऊपर से निकली। उस समय उनकी पत्नी बाथरूम में थी। आवाज सुनकर बाहर आईं और पति को ड्राइंगरूम में खून से लथपथ पाया। पिछले 2 साल से फरीदाबाद में पोस्टेड थे पति को इस हालत में देखने के बाद उन्होंने बेटे अर्जुन को जगाया। डीसीपी का एक साल बाद रिटायरमेंट था। आवास पर फरेंसिक टीम जांच कर रही है। अभी आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है। न ही कोई सुइसाइड नोट मिला है। विक्रम कपूर मूल रूप से अंबाला के रहने वाले थे और हरियाणा पुलिस में इंस्पेक्टर के पद पर भर्ती हुए थे। प्रमोशन पाकर वह आईपीएस बन चुके थे और पिछले दो साल से फरीदाबाद में तैनात थे। पिछले साल कानपुर SSP ने की थी आत्महत्या पुलिस अधिकारियों और वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों की आत्महत्या के कई केस पिछले कुछ वर्ष में सामने आए हैं। पिछले साल 5 सितंबर को कानपुर से एसएसपी सुरेंद्र कुमार ने भी घरेलू विवाद के बाद जहर खाकर अपनी जान दे दी थी। पुलिस फिलहाल डीसीपी के आत्महत्या के कारणों की पड़ताल कर रही है।
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment