भारत को युद्ध की धमकी देने वाले मंत्री की लंदन में हुई थी पिटाई, पड़े थे अंडे- Loktantra Ki Buniyad

पाकिस्तान (Pakistan) की इमरान खान सरकार (Imran Khan Government) के एक मंत्री ने दावा किया है कि भारत से उनकी जंग कब होगी. पाकिस्तान की सरकार में रेल मंत्री शेख रशीद अहमद (Pakistan Railways Minister Sheikh Rashid Ahmed) ने भविष्यवाणी की है कि पाकिस्तान और भारत के बीच अक्टूबर में या उसके बाद पूर्ण युद्ध होगा. रेल मंत्री शेख रशीद अहमद पाकिस्तान सरकार के वही मंत्री हैं जिनकी कुछ दिनों पहले लंदन (London) में पिटाई हुई थी. इतना ही नहीं उन्हें जमकर घूंसे मारे गए थे और उन पर अंडे फेंके गए थे. पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार अवामी मुस्लिम लीग (Awami Muslim League) के प्रमुख और रेल मंत्री शेख रशीद पर लंदन में उस समय हमला हुआ जब वह एक होटल में पुरस्कार समारोह में शरीक होने गए थे. इसी कार्यक्रम में कुछ लोग वहां आए और शेख रशीद को पीटकर वहां से भाग गए थे. इसलिए हुआ था हमला बाद में इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (Pakistan People's Party) से जुड़े पीपुल्स यूथ ऑर्गनाइजेशन यूरोप के अध्यक्ष आसिफ अली खान और पार्टी के ग्रेटर लंदन शाखा की अध्यक्ष समाह नाज़ ने ली थी. दरअसल इन ऑर्गनाइज़ेशन के लोग शेख रशीद से नाराज़ चल रहे थे. पाकिस्तानी रेल मंत्री ने कुछ दिन पहले ही पीपीपी प्रमुख बिलावल भुट्टो ज़रदारी (Bilawal Bhutto Zardari) के खिलाफ अपशब्द कहे थे जिसके बाद उनके ऊपर ये हमला हुआ था. परमाणु हमले की गीदड़भभकी लेकिन ये पहली बार नहीं है जब पाकिस्तान के रेल मंत्री ने इस तरह की धमकी दी हो. इससे पहले पाकिस्तान के रेल मंत्री ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने के बाद भारत को परमाणु हमले की धमकी दी थी. शेख रशीद ने कहा था कि आगामी तीन-चार महीने बहुत महत्वपूर्ण हैं. युद्ध हो सकता है, लेकिन हम युद्ध नहीं चाहते हैं. अगर हम पर युद्ध थोपा गया तो यह अंतिम युद्ध होगा. पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख रशीद अपने बिना सिर-पैर के बयानों के लिए जाने जाते हैं. ऐसा पहली बार नहीं है जब शेख रशीद ने ऐसी टिप्पणी की हो. फरवरी में हुए पुलवामा हमले के बाद भी पाकिस्तानी रेल मंत्री ने भारत को इस तरह की गीदड़भभकी देने की कोशिश की थी. शेख रशीद ने एक वीडियो जारी कर कहा था कि अगर किसी ने भी पाकिस्तान की ओर देखा तो वो आंखें निकाल ली जाएंगीं. वहीं करतारपुर कॉरिडोर को लेकर उन्होंने कहा था कि करतारपुर कॉरिडोर का नाम बदलकर खालिस्तानी स्टेशन कर देना चाहिए.
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment