हरियाणा में गोपाल कांडा से समर्थन लेने के विरोध में उमा भारती, बीजेपी को चेताया- Loktantra Ki Buniyad

नई दिल्ली: हरियाणा में सरकार बनाने के लिए सिरसा से जीते हरियाणा लोकहित पार्टी (एचएलपी) के नेता गोपाल गोयल कांडा से समर्थन लेने को लेकर बीजेपी के अंदर विरोध के स्वर उठने लगे हैं। बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात के बाद कांडा ने अपनी रगों में RSS का खून होने की बात कहते हुए खट्टर सरकार को खुला समर्थन दिया है। बीजेपी की मुखर नेता उमा भारती ने इस पर पार्टी को सतर्क किया है। उन्होंने कई ट्वीट करते हुए कहा कि कांड से समर्थन लेना बीजेपी के नैतिक मूल्यों के खिलाफ रहेगा। उन्होंने कांडा के लिए सख्त शब्दों का इस्तेमाल करते हुए लिखा कि वह सिर्फ चुनाव जीतने भर से बेगुनाह नहीं हो जाते। बता दें कि टोहाना से चुनाव हारने वाले बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला ने कांडा का समर्थन किया है, जबकि खट्टर इस पर चुप्पी साधे हुए हैं। बीजेपी ने 40 सीटों पर जीत हासिल की है, जो बहुमत के आंकड़े से 6 कम है। ऐसे में उसकी नजरें कांडा समेत निर्दलीय विधायकों पर टिकी हैं।दोनों राज्यों के नतीजों पर बीजेपी को दी बधाई उमा ने हरियाणा में बीजेपी को सबसे बड़ी पार्टी बनने पर बधाई दी। उन्होंने कहा कि फिलहाल वह हिमालय प्रवास पर हैं और उन्हें मोबाइल के जरिए ही सारी जानकारी मिल रही है। एक ट्वीट में उन्होंने लिखा, 'पहले हरियाणा में 2-4 सीटें जीतकर ही बीजेपी खुश हो जाती थी, लेकिन मोदीजी की लहर के कारण ही 2014 में हरियाणा में बीजेपी की सरकार बनी।' उन्होंने लिखा कि इस बार भी सबसे बड़ी पार्टी बनना बीजेपी के लिए उपलब्धि है। इसके साथ ही उन्होंने गोपाल गोयल कांडा से समर्थन नहीं लेने की अपील भी की।कांडा के समर्थन को बीजेपी के लिए बताया अनैतिक उमा भारती ने ट्वीट किया, 'मुझे जानकारी मिली है कि गोपाल कांडा नाम के एक निर्दलीय विधायक का समर्थन भी हमें मिल सकता है। इसी पर मुझे कुछ कहना है। अगर गोपाल कांडा वही व्यक्ति है जिसकी वजह से एक लड़की ने आत्महत्या की थी और उसकी मां ने भी न्याय नहीं मिलने पर आत्महत्या कर ली। मामला अभी कोर्ट में विचाराधीन है और यह व्यक्ति जमानत पर बाहर है।'PM मोदी, राष्ट्रवाद की याद दिला कांडा से दूर रहने की अपील सिलसिलेवार ढंग से किए कई ट्वीट में उमा ने कांडा से बीजेपी को दूर रहने की नसीहत दी। उन्होंने एक और ट्वीट में लिखा, 'गोपाल कांडा बेकसूर है या अपराधी, यह तो कानून साक्ष्यों के आधार पर तय करेगा, किंतु उसका चुनाव जीतना उसे अपराधों से बरी नहीं करता। चुनाव जीतने के बहुत सारे फैक्टर होते हैं।' उन्होंने एक और ट्वीट में लिखा, 'मैं बीजेपी से अनुरोध करूंगी कि हम अपने नैतिक अधिष्ठान को न भूलें। हमारे पास तो नरेंद्र मोदी जी जैसी शक्ति मौजूद है और देश क्या पूरे दुनिया की जनता मोदी जी के साथ है। मोदी जी ने सतोगुणी ऊर्जा के आधार पर राष्ट्रवाद की शक्ति खड़ी की हरियाणा में हमारी सरकार ज़रूर बने, लेकिन यह तय करिए कि जैसे बीजेपी के कार्यकर्ता साफ-सुथरी जिंदगी के होते हैं, हमारे साथ वैसे ही लोग हों।'
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment