पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की स्थिति पर अमेरिका चिंतित

वॉशिंगटन: अमेरिका ने पाकिस्तान में उत्पीड़न और बड़ी संख्या में लोगों के मारे जाने सहित वहां अल्पसंख्यकों की स्थिति पर चिंता जताई है। अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता पर अमेरिका के विशेष राजदूत सैमुअल ब्राउनबैक ने कहा कि पाकिस्तान के हालात को लेकर हम चिंतित हैं। उन्होंने अल्पसंख्यकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की बात कही।ब्राउनबैक ने कहा, ‘हम पाकिस्तान के बारे में चिंतिंत हैं। हम खासतौर पर वहां उत्पीड़न के कड़े माहौल और बड़ी संख्या में लोगों के मारे जाने की घटनाओं को देखते हुए चिंतित हैं। अहमदिया मुसलमान देश में अपने धार्मिक रीति-रिवाज नहीं कर सकते क्योंकि वे (पाकिस्तानी) उन्हें मुसलमान ही नहीं मानते।’ उन्होंने कहा,‘हम विचार कर रहे हैं कि ऐसी स्थिति के लिए हम क्या कर सकते हैं।’ एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि प्रशासन विकास के क्षेत्र में काम करने वाले अनेक संगठनों के साथ संपर्क में है और यह जानने का प्रयास कर रहा है कि क्या वे खासकर उन देशों में धार्मिक अल्पसंख्यकों की मदद कर सकते हैं, जहां उनका उत्पीड़न किया जा रहा हो। उन्होंने कहा,‘हम खास समूहों की सहायता कर रहे हैं जैसे कि हम कुछ देशों में खासतौर पर महिलाओं और दिव्यांगों के लिए कार्यक्रम चला रहे हैं। मैंने उनमें से कई से कहा है कि वे यह देखें कि क्या धार्मिक अल्पसंख्यों की मदद करने का कोई तरीका है।’
Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment