कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच पीएम मोदी ने राज्‍यों में वैक्‍सीन की बर्बादी पर नाराजगी जताई: डॉ. वीके पॉल


 

देश में बढ़ते कोरोना मामलों और टीकाकरण की स्थिति को लेकर प्रेस कांफ्रेंस करते हुए नीति आयोग के सदस्‍य डॉ. वीके पॉल ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने सभी सीएम के साथ अपनी बैठक के दौरान कहा कि टीयर 2 और 3 शहरों में टेस्‍ट, अस्‍पतालों में देखभाल सुविधाओं को मजबूत करने की आवश्यकता है। आज का सबसे महत्‍वपूर्ण विकास यह है कि प्रधानमंत्री ने राज्यों और केंद्र शासित राज्‍यों के साथ कोरोना के बढ़ते मामलों और टीकाकारण पर विस्तृत चर्चा की। प्रधानमंत्री ने वैक्सीन की बर्बादी पर नाराजगी जताई। उन्‍होंने कहा कि वैक्‍सीन एक कीमती वस्तु है। 


स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने कहा कि भारत का कोविड वैक्सीन की बर्बादी का कुल प्रतिशत 6.5 फीसद है। तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में क्रमशः 17.6 फीसद और 11.6 फीसद वैक्‍सीन की बर्बादी दर्ज किया गया। इस बारे में हमने राज्यों से कहा है कि टीका की बर्बादी को काफी कम किया जाना चाहिए। 


स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के सचिव ने कहा कि देश के कुछ राज्यों में कोरोना के मामले बढ़ने के बावजूद सक्रिय मामले 2 प्रतिशत हैं और मृत्यु दर 2 प्रतिशत से कम है। पूरे देश में क्युमुलेटिव पॉजिटिव रेट 5 प्रतिशत से कम हो गई है और पिछले एक सप्ताह में ये 3 प्रतिशत है। सभी सक्रिय मामलों का 60 फीसद महाराष्ट्र में केंद्रित है। उन्‍होंने कहा कि नए कोरोना मामलों का निम्नतम बिंदु 9 फरवरी था। आज नए कोरोना के मामलों में सप्ताह की वृद्धि लगभग 43 फीसद और नई मौतों में सप्ताह में लगभग 37 फीसद  वृद्धि दर्ज की गई है। 

Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment