बिहार : तेजस्‍वी ऐसा बेटा, जिसने लालू को टॉयलेट में किया था बंद, भड़के कुशवाहा का बड़ा खुलासा - Bihar Politics


बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष  तेजस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) को जनता दल यूनाइटेड के विधान पार्षद उपेंद्र कुशवाहा ने उनकी ही भाषा में जवाब दिया है। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) को ले तेजस्‍वी के अमर्यादित बोल पर कुशवाहा ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि सुन लो तेजस्‍वी, जुबान पर लगाम लगाओ। उन्‍होंने एक बड़ा खुलासा यह भी किया कि तेजस्‍वी ने एक बार अपने पिता लालू प्रसाद यादव काे शौचालय में बंद  कर दिया था। ऐसे लोगों से क्‍या उम्‍मीद की जाए।


विदित हो कि मंगलवार को बिहार विधानसभा में विपक्ष ने बड़ा बवाल किया। हंगामा व उत्‍पात इतना बढ़ा कि बाहर से पुलिस बुलाकर विपक्षी विधायकों को सदन से बाहर करना पड़ा था। इसके बाद से वार-पलटवार का दौर जारी है। नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने मुख्‍यमंत्री के लिए अमर्यादित शब्‍दों का उपयोग किया। बुधवार को इसपर उपेंद्र कुशवाहा ने प्रतिक्रिया दी है।


कुशवाहा ने कहा है कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव अपने पिता की उम्र के समतुल्य मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रति जिन शब्दों का प्रयोग कर रहे हैं, वे बर्दाश्‍त के बाहर हैं। तेजस्वी को संबोधित करते हुए उन्‍होंने आगे कहा कि उन्‍होंने लगभग आजीवन लालू के विरोध की ही राजनीति की है, लेकिन उनको 'ललूआ' कहने वालों को मुंहतोड़ जबाव भी देते रहे हैं। ''तुमको भी मेरी सलाह है कि अपनी कब्र मत खोदो। जुबान पर लगाम रखो क्‍यों नौंवी फेल कहने वालों को खुद ही और मौका देते हो?''


कुशवाहा ने मीडिया से बातचीत में कहा कि आज अगर लालू जेल से बाहर होते तो वे बेटों को समझाने की कोशिश करते, लेकिन बेटे उनकी बात कितनी मानते कह नहीं सकते हैं। शायद बेटों से अपमानित होने से बेहतर वे चुप रहना ही समझते। तेजस्‍वी ने तो एक बार लालू प्रसाद यादव को शौचालय में बंद कर दिया था।


कुशवाहा ने आगे कहा कि लालू के बेटे आरजेडी में बड़े नेताओं का भी अपमान करते रहे हैं। रघुवंश प्रसाद सिंह व जगदानंद सिंह के उदाहरण समाने ही हैं। महागठबधन में रहते मेरा अपमान करने की हिम्‍मत जो वे नहीं कर सके, लेकिन आदत ताे यही है। मुख्‍यमंत्री का अपमान बिहार की जनता का अपमान है। इस लिहाज से तो वे अब जनता का भी अपमान करने लगे हैं।

Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment