ITR के लिए आपके पास भी आया है मैसेज ताे हाे जाएं सावधान, रिटर्न नहीं आपकी सेविंग उड़ाने का है प्लान

 मार्च क्लाेजिंग करीब आने के साथ ही लाेग इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने में जुटे हुए है. जिसके बाद रिफंड की प्राेसेस शुरू हाेती है. लेकिन पिछले कुछ समय से लाेगाें के पास रिफंड क्लेम करने काे लेकर एक मैसेज आ रहा है. ताे यदि आपके पास भी वाे मैसेज आया है ताे सावधान हाेने की जरूरत है साथ ही इसमें दी जा रही लिंक काे ना ताे ओपन करे ना ही अपनी काेई भी जानकारी शेयर करे. वर्ना रिटर्न लेने के चक्कर में आपकी सेविंग्स ही ग़ायब ना हाे जाए. दिल्ली स्थित थिंकिंग टैंक साइबरपीस फाउंडेशन के साथ साइबर सिक्याेरिटी फर्म ऑटाेबाेट इन्फाेसिस ने अपनी रिपाेर्ट में इसका खुलासा किया है. ताे किस तरह की है यह नई धाेखाधड़ी, इसे कैसे पहचान सकते है और इससे बच सकते है आप, चलिए जानते है-



इस तरह का है मैसेज




फाेन पर एसएमएस के जरिए भेजे जा रहे मैसेज में इनकम टैक्स रिफंड के लिए एप्लिकेशन सब्मिट करने के लिए एक लिंक भेजी जा रही है. यदि आप गाैर ना करे ताे शायद आपकाे भी यही लगेगा कि आयकर विभाग की ई-फाइलिंग पेज ही है. यहां आपकाे प्राेसीड टू द वेरिफिकेशन स्टेप्स बटन क्लिक करने का ऑप्शन आता है. जैसे ही आप इसे क्लिक करते है इसके बाद आपकाे यह जानकारी सामने दिखाई देती है जिसमें पूरा नाम, आधार और पैन कार्ड नंबर, पिनकाेड, माेबाइल नंबर, जेंडर, ईमेल एड्रेस, जन्मतिथि आदि. इसके बाद बैंकिंग इंफॉर्मेशन जैसे बैंक अकाउंट नंबर, कार्ड नंबर, आईएफएससी काेड, सीवीवी, पिन जैसी जानकारी भरने काे कहा जाता है.



इसके बाद यूजर्स काे एक पेज पर रि-डायरेक्टर कर दिया जाता है. जहां उनसे पूर्व में भरी जानकारी काे कंफर्म करने काे कहा जाता है. इसके बाद सब्मिट करते ही यूजर एक झूठे बैंकिंग लॉगिन पेज पर पहुंच जाता है यह भी दिखने में असली जैसा ही रहता है.

Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment