नीम रोकेगी कोरोना वायरस संक्रमण, सफल रहा क्लीनिकल ट्रायल

 


ऐसा लग रहा है कि कोरोना वायरस संक्रमण पर प्राचीन भारतीय आयुर्विज्ञान ही सफलता प्राप्त करेगी. हरियाणा के ईएसआइसी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में कोरोना पर नीम के प्रभाव को जानने की हुआ क्लीनिकल ट्रायल  सफल रहा है. क्लीनिकल ट्रायल की रिपोर्ट के अनुसार नीम की गोली कोरोना संक्रमण रिसर्च में पाया गया है कि नीम की गोली पूरी तरह सुरक्षित है और इससे जान को भी कोई जोखिम नहीं है. यह गोली कोरोना संक्रमण के खतरे 55 फीसद तक कम करने में प्रभावशाली है. इसके अलावा यदि स्वस्थ व्यक्ति लगातार 28 दिन तक नीम की गोलियों का सेवन सुबह शाम दो बार करता है तो वह संक्रमण रोधी प्रतिरोधक क्षमता विकसित कर लेता है. यह वैक्सीन जितना कारगर है. नियमित नीम की गोलियों का सेवन करने पर यदि किसी व्यक्ति को संक्रमण होता भी है, तो यह मामूली वायरल जितना ही असर करेगा. ऐसे में कोरोना से जान जाने का खतरा कई गुना कम होगा. ईएसआइसी मेडिकल कालेज एवं अस्पताल के रजिस्ट्रार डॉ. एके पांडेय का दावा है कि इस उपाय को अपनाकर लाखों जिंदगी बचाई जा सकती हैं.की रोकथाम में कारगर साबित हो सकती है. यह ट्रायल ईएसआइसी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल, ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद और निसरगा बायोटेक प्राइवेट लिमिटेड ने गत वर्ष अगस्त माह में संयुक्त रूप से शुरू किया था, तब से ही इस पर रिसर्च जारी थी.

Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment