मुंबई: बारिश से खस्ताहाल सड़कों पर बने गड्ढे में गिरकर एक और मौत- /one-more-killed-fallen-on-path

मुंबई :देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में बारिश के बाद सड़कें पर उभरे गड्ढे लगातार जान ले रहे हैं, लेकिन प्रशासन अभी पूरी तरह से सचेत नहीं हुआ है। शुक्रवार को गड्ढे में गिरने से एक और शख्स की मौत हो गई। मृतक की पहचान कल्पेश जाधव के रूप में हुई है जो कल्याण के पास नंदकर गांव के निवासी बताए जा रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अब तक सड़क पर गड्ढों के चलते मुंबई में यह पांचवीं मौत है। खबर के मुताबिक, कल्पेश स्कूटी से काम पर जा रहे थे, तभी कल्याण इलाके में ही उनकी स्कूटी फिसल गई और कल्पेश गड्ढे में गिर गए। कल्पेश को गंभीर रूप से चोटें आईं, जिसके बाद उनकी मौत हो गई। बता दें कि इससे पहले 6 जुलाई को कल्याण में ही बारिश के चलते सड़कों पर बने गड्ढे में बाइक फंसने से एक महिला की मौत हो गई थी। बस से कुचलकर महिला की मौत महिला की पहचान दो बच्चों की मां मनीषा के रूप में हुई है। रविवार को मुंबई के पास कल्याण में भारी बारिश में दोपहिया वाहन से जा रहीं मनीषा गड्ढे के चलते बाइक से गिर गईं। गिरते ही पीछे से आ रही तेज रफ्तार बस ने उन्हें कुचल दिया। मनीषा ठाणे के एक स्कूल में काम करती थीं और दो बच्चों की मां थीं। एक सीसीटीवी कैमरे पर चौंकाने वाली यह घटना रिकॉर्ड हो गई। 2 जून को एक मासूम को हुई थी मौत इसी जगह पर ऐसी ही एक घटना 2 जून को भी हुई थी जब बाइक पर अपने पिता के साथ बैठा पांच साल का बच्चा गड्ढेवाली सड़क पर गिर गया और ट्रक के नीचे आ गया था। 9 जुलाई को बारिश के वक्त जब पिता ने उसी जगह पर अपने बेटे का पसंदीदा खाना दही-चावल रखा तो देखनेवालों की आंखों में आंसू आ गए। 'कांग्रेस ने शुरू किया गड्ढे गिनो आंदोलन' अपने मासूम बेटे को खो चुके पिता कहते हैं कि अगर समय रहते कदम उठाए गए होते तो कम से कम उस जगह पर गई और जानों को बचाया जा सकता था। उधर बारिश के कारण गड्ढामय हो गई मुंबई की सड़कों की तरफ सरकार का ध्यान खींचने के लिए मुंबई कांग्रेस ने अनोखा आंदोलन शुरू किया है। इस आंदोलन को 'गड्ढे गिनो आंदोलन' नाम दिया गया है। इसमें कांग्रेस के कार्यकर्ता अपने-अपने इलाकों में सड़कों पर बने गड्ढे का पहले फोटो खीचेंगे और उसके बाद उसे भर कर उस पर 'कमल का फूल' चढ़ाएंगे। सुप्रीम कोर्ट ने पूछा था, 'कितने गड्ढे हैं?' बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को सड़क सुरक्षा से जुड़ी एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए राज्य सरकारों और संबंधित विभागों को जमकर फटकार लगाई थी। सुप्रीम कोर्ट ने पूछा था कि दिल्ली और मुंबई की सड़कों पर कितने गड्ढे हैं? साथ ही उनकी वजह भी पूछी थी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि देश में हर साल सड़क हादसों में होने वाली मौतों के पीछे सड़कों पर बने गड्ढे भी वजह बनते हैं। मामले में अगली सुनवाई सोमवार को होगी।
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment