Asian Games 2018: अरपिंदर और स्वप्ना ने दिलाए भारत को गोल्ड मेडल

जकार्ता : 18वें एशियाई खेलों के 11वां दिन भारत के लिए खुशियों भरा रहा और देश को 2 गोल्ड मेडल मिले। पहला गोल्ड मेडल अरपिंदर सिंह ने तिहरी कूद स्पर्धा में जीता। इसके बाद महिला हेप्टैथलॉन में स्वप्ना बर्मन ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए देश को इन खेलों का 11वां गोल्ड मेडल दिला दिया। पंजाब के अमृतसर के रहने वाले अरपिंदर की तीसरी कूद (16.77 मीटर) उन्हें गोल्ड मेडल जितवाने के लिए काफी रहा। उज्बेकिस्तान के रसलान कुरबानोव (16.62मीटर) ने सिल्वर और चीन के शुओ काओ (16.56मीटर) ने ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा जमाया। बुधवार को जकार्ता में अरपिंदर ने भारत के लिए इन एशियाई खेलों का 10वां और फिर स्वप्ना ने 11वां गोल्ड मेडल जीता। भारत के ही दूसरे खिलाड़ी राकेश बाबू छठे स्थान पर रहे। भारत ने एशियन गेम्स के तिहरी कूद में 48 साल बाद कोई स्वर्ण पदक जीता है। इससे पहले महिंदर सिंह ने 1970 के एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था। अरपिंदर की पहली कूद असफल रही। इसके बाद उन्होंने दूसरी कूद में 16.58 मीटर की छलांग लगाकर चोटी पर जगह बना ली। तीसरी छलांग उन्होंने 16.77 मीटर की लगाई जो एशियन गेम्स में उन्हें गोल्ड मेडल दिलवाने के लिए काफी था। अरपिंदर की चौथी छलांग 16.08 मीटर रही। उनकी पांचवीं और छठी छलांग सफल नहीं रही। एक समय तक सुरेश बाबू दूसरे स्थान पर चल रहे थे लेकिन बाद में वह फिसल गए। इन एशियाई खेलों के ट्रैक ऐंड फील्ड में भारत के 5 गोल्ड मेडल हो गए हैं। इससे पहले नीरज चोपड़ा ने भाला फेंक, तजिंदर पाल सिंह तूर ने शॉट पुट और मनजीत सिंह ने 800 मीटर की दौड़ में गोल्ड मेडल जीता है।
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment