माल्या प्रत्यर्पण केस, सीबीआई ने ब्रिटेन को भारत की जेल का वीडियो सौंपा- vijay-mallya-extradition-case

नई दिल्ली : भगौड़े कारोबारी विजय माल्या को वापस देश लाने की कोशिश में लगी सीबीआई ने ब्रिटेन की मांग पर उसे भारत की जेल का वीडियो सौंप दिया है. विजय माल्या ने ब्रिटेन की एक कोर्ट में कहा था कि भारत की जेलों की हालत सही नहीं है. वहां की जेलों में रोशनी की व्यवस्था भी नहीं है. इस पर ब्रिटेन की कोर्ट ने भारत से सबूत मांगा था. लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने भारत से कहा था कि वह जिस जगह माल्या को रखना चाहती है, उसका एक वीडियो पेश करे. इसके बाद सीबीआई ने 8 मिनट का एक वीडियो मुंबई की ऑर्थर रोड जेल का कोर्ट को सौंप दिया है. गौरतलब है कि किंगफिशर एयरलाइंस पर 31 जनवरी, 2014 तक बैंकों का 6,963 करोड़ रुपए बकाया था. कर्ज पर ब्याज के बाद माल्या की कुल देनदारी 9990 करोड़ रुपए से ज्यादा हो चुकी है. माल्या 2016 में भारत से भाग गया था. फिलहाल वह लंदन में है और मुकदमों का सामना कर रहा है. भारत सरकार की ओर से जारी वारंट पर कार्रवाई करते हुए माल्या को 18 अप्रैल, 2017 को लंदन में गिरफ्तार किया गया था, लेकिन उसे तुरंत जमानत मिल गई थी. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, विडियों में दिखाया गया है कि बैरक नंबर 12 में पर्याप्त रोशनी है. बैरक में नहाने की जगह है. इसके अलावा एक पर्सनल टॉइलट है. इस वीडियो में बताया गया बैरक की खिड़कियों में सलाखें हैं. इसमें पर्याप्त रूप से रोशनी आती है. पीएम मोदी ने दिया ब्रिटेन की पीएम को जवाब भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बताया था कि जब ब्रिटेन में पीमए मोदी और इंग्लैंड की पीएम से मुलाकात हुई थी, तब उन्होंने पूछा था कि आप माल्या को कहां रखेंगे. इस पर उन्होंने कहा था कि जिन जेलों में आपने महात्मा गांधी और नेहरू को रखा था, हम माल्या को उसी में रखेंगे.
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment