हौजकाजी: मंदिर में फिर होगी मूर्ति स्थापना, 2000 पुलिसकर्मी रखेंगे माहौल पर नजर- Loktantra Ki Buniyad

नई दिल्ली : लाल कुआं इलाके में मंगलवार को एक बड़ा धार्मिक आयोजन होने जा रहा है। धार्मिक स्थल की मूर्तियों को तोड़े जाने की घटना के बाद वहां मूर्तियां स्थापित की जाएंगी। पूरा कार्यक्रम शांतिपूर्वक निपट जाए, इसके लिए दिल्ली पुलिस ने पुख्ता बंदोबस्त किए हैं। यह यात्रा कई इलाकों से गुजरेगी। माहौल न बिगड़े इसके लिए धार्मिक यात्रा के रूट पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। साथ ही छतों पर भी पुलिस बल की तैनाती रहेगी। पुलिस इस समारोह को लेकर हाई अलर्ट पर है। लालकुआं में पिछले दिनों मामूली पार्किंग विवाद के बाद सांप्रदायिक हिंसक झड़प हो गई थी। पुलिस अफसरों के मुताबिक, ड्रोन कैमरों से सोमवार रात से निगरानी की जाने लगी है। पुलिस पूरे कार्यक्रम के दौरान ड्रोन कैमरे से करीब 4 किलोमीटर के दायरे को कवर करती रहेगी। 200 रूफ टॉप बनाए गए हैं, जहां पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। सुरक्षा के बंदोबस्त इस तरह से किए हैं कि कहीं भी चूक न रहे। पूरे प्रोग्राम पर पुलिस की पैनी नजर रहेगी। सभी सुरक्षा बंदोबस्त पुख्ता कर लिए गए हैं। 'पुलिस ने लगवाए हैं 300 सीसीटीवी कैमरे' पुलिस अफसरों के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने प्रोग्राम को देखते हुए तीन सौ सीसीटीवी कैमरे लगवाए हैं। प्रोग्राम पर इन कैमरों से चप्पे-चप्पे पर नजर रहेगी। ताकि किसी भी संदिग्ध गतिविधि पर तुरंत पुलिस अलर्ट मोड में रहे। पुलिस सूत्रों ने बताया कि लाहौरी गेट से लेकर अजमेरी बाजार, लाल कुआं, चावड़ी बाजार और अन्य इलाकों से शोभायात्रा निकलेगी। इस दौरान 200 से अधिक लगाए गए रूफ टॉप से सिक्यॉरिटी कवर रहेगा। पिछले दिनों के हालात को मद्देनजर रखते हुए पैरामिलिट्री फोर्स की 7 कंपनी तैनात हैं। शोभायात्रा की वजह से पुलिस ने रात से एहतियातन 12 बजे के बाद हेवी ट्रैफिक को बंद कर दिया था। कई रूट डायवर्ट कर लिए गए हैं। सूत्रों के मुताबिक, पुलिस के पास ऐसी खुफिया रिपोर्ट्स हैं कि शरारती तत्व जानबूझकर माहौल को बिगाड़ने की कोशिश कर सकते हैं। पुलिस का कहना है कि सारा विवाद मामूली सी कहासुनी से शुरू हुआ था लेकिन सांप्रदायिक रंग दे दिया गया। इस मामले में दर्जनों गिरफ्तारियां हो चुकी हैं।
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment