तल्खियां भुलाकर भाई उद्धव ठाकरे के शपथ ग्रहण में शामिल होने पहुंचे एमएनएस चीफ राज

मुंबई: उद्धव ठाकरे ने मुंबई के शिवाजी पार्क में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली है। इस मौके पर तमाम तल्खियां भूलकर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) प्रमुख और चचेरे भाई राज ठाकरे भी इस आयोजन का हिस्सा बने। राज ठाकरे ब्लैक कुर्ता पायजामा में नजर आए। बड़े भाई उद्धव ने शपथ ग्रहण में शामिल होने का न्योता भेजा था, राज ठाकरे ने जिसे सहर्ष स्वीकार किया। बता दें कि राजनीतिक मंचों पर इन दोनों भाइयों की मौजूदगी की यह खास तस्वीर है। हालांकि, पारिवारिक आयोजनों का न्योता आता-जाता रहता है। इसी वर्ष राज ठाकरे ने अपने बेटे अमित ठाकरे की शादी का न्योता उद्धव को दिया था।शुरू में बाल ठाकरे की सियासी विरासत के वारिस लंबे समय तक उनके भतीजे राज ठाकरे माने जाते थे। कथित तौर पर उद्धव ठाकरे द्वारा दरकिनार किए जाने के कारण राज ठाकरे ने 9 मार्च 2006 को शिवसेना से अलग होकर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) नाम से अलग पार्टी बना ली थी। इसके बाद से दोनों भाई राजनीतिक मंचों पर एक साथ नजर नहीं आए हैं। हालांकि ऐसे मौके भी कम ही आए हैं जब दोनों भाई एक-दूसरे से मिले हों।मंच पर गर्मजोशी से हुआ राज का स्‍वागत राज ठाकरे जब मंच पर पहुंचे तो उनका गर्मजोशी के साथ स्वागत किया गया। कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने राज ठाकरे की पीठ थपथपाई, एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल ने खड़े होकर हाथ मिलाया, फिर राज ठाकरे मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के नजदीक जाकर बैठ गए। बता दें कि शपथ ग्रहण के इस आयोजन में सोनिया गांधी और राहुल गांधी शरीक नहीं हुए हैं। सोनिया और राहुल ने उद्धव ठाकरे को चिट्ठी लिखकर बधाई दी है।
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment