'प्लान-61' से योगी के 75 सिपाही भेदेंगे यूपी की सियासत का व्यूह- yogi-adityanath-made-plan-61-for-2019-loksabha-election


मेरठ :मेरठ में बीते 11-12 अगस्त को बीजेपी उत्तर प्रदेश की कार्यसमिति बैठक के बाद पार्टी के नेता अब चुनावी मोड में जमीन पर पार्टी की बिसात को मजबूत करने में जुटे हुए हैं। चुनाव में बीजेपी की जीत के खास मकसद के लिए खुद सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्लान 61 तैयार किया है। प्लान के इन 61 'हथियारों' से सूबे 75 मंत्रियों के बल पर बीजेपी 73 प्लस के अपने लक्ष्य को पाने की राह प्रशस्त करने में जुटी हुई है। लोकसभा के चुनाव में यूपी के सियासी महत्व को देखते हुए बीजेपी और सीएम योगी ने एक बड़ी कार्ययोजना बनाई है। इसमें सीएम ने नौकरशाहों को धरातल पर काम करने और अपने मंत्रियों को आमजन से जुड़े 61 कामों पर नजर रखकर लोगों की समस्याओं का तत्काल समाधान करने के निर्देश दिए हैं। सीएम ने लखनऊ के कई वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों को अलग-अलग जिले का नोडल अधिकारी बनाया है, जिन्हें हर दूसरे हफ्ते में क्षेत्र में जाकर जनता का फीडबैक लेने और इसे सरकार को सौंपने के निर्देश दिए गए हैं। लोकसभा के चुनाव में यूपी के सियासी महत्व को देखते हुए बीजेपी और सीएम योगी ने एक बड़ी कार्ययोजना बनाई है। इसमें सीएम ने नौकरशाहों को धरातल पर काम करने और अपने मंत्रियों को आमजन से जुड़े 61 कामों पर नजर रखकर लोगों की समस्याओं का तत्काल समाधान करने के निर्देश दिए हैं। सीएम ने लखनऊ के कई वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों को अलग-अलग जिले का नोडल अधिकारी बनाया है, जिन्हें हर दूसरे हफ्ते में क्षेत्र में जाकर जनता का फीडबैक लेने और इसे सरकार को सौंपने के निर्देश दिए गए हैं।
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment