सामान्य से कम बरस सकता है मॉनसून पर किसानों के लिए चिंता की बात नहीं- monsoon-to-be-below-normal-but-farmers-may-not-be-hit

नई दिल्ली: इस साल मॉनसून सामान्य से कम बारिश देकर जा सकता है। इसके बावजूद भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने बेहतर बारिश की उम्मीद जताई है। इस वजह से खरीफ की फसल के किसानों के लिए चिंता करने जैसी कोई बात नहीं है। शुक्रवार को आईएमडी के मौसम अपडेट जारी किया है। अगस्त और सितंबर में 95 फीसदी बारिश का अनुमान जताया गया है। मौसम विभाग ने कहा है कि मॉनसून के बचे हुए हिस्से का भी खेती-किसानी के अनुरूप रहने की संभावना है। पिछले हफ्तों में हुई यूपी-बिहार में धान की उपज वाले क्षेत्रों में अच्छी बारिश ने खरीफ की बुआई के क्षेत्र में औसत से 1.4 फीसदी की बढ़त देखी गई है। आईएमडी ने कहा है कि अगस्त में लॉन्ग पीरियड ऐवरेज (LPA) के 96 फीसदी बारिश होने की उम्मीद है। यह आईएमजी के पहले के अनुमान से 2 फीसदी अधिक है। आईएमडी ने सितंबर में 93 फीसदी और पूरे सत्र में 95 फीसदी बारिश का अनुमान जताया है। इस हिसाब से यह सामान्य से कम (90-96 फीसदी) बारिश है। आईएमडी के अडिशनल डायरेक्टर जनरल मृत्युंजय महापात्रा ने कहा कि दो महीने के पूर्वानुमान में +/-8% फीसदी के मॉडल एरर के लिहाज से यह अनुमान किसी भी तरफ स्विंग कर सकता है। उन्होंने बताया कि विभाग पूरे सीजन को लेकर पहले दिए गए अनुमान (LPA का 97 फीसदी) से परे नहीं जा सकता। आईएमडी के पूर्वानुमान के मुताबिक मॉनसून कमजोर फेज में है लेकिन 8 अगस्त तक ईस्ट और नॉर्थइस्ट के राज्यों में सामान्य से अधिक की बारिश की उम्मीद है। 9 से 15 अगस्त तक ईस्ट, नॉर्थवेस्ट और दक्षिणी राज्यों में सामान्य से अधिक बारिश की उम्मीद है।
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment