संसद के काम काज में बाधा डालने के विरोध में उपवास रखने के बावजूद चेन्नई शहर के पास रक्षा प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे प्रधानमंत्री - pm modi to fast today bjp leaders to lead protests across india

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को संसद के काम-काज में बाधा डालने के विरोध में उपवास रखने के बावजूद चेन्नई शहर के पास रक्षा प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे. रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि हाल ही में समाप्त हुए बजट सत्र के दौरान 'विपक्ष द्वारा संसद की कार्रवाई में बाधा पहुंचाने' के विरोध में आहूत उपवास में वह भी हिस्सा लेंगी. उन्होंने कहा, "मैं भी उपवास रखूंगी. प्रधानमंत्री मोदी भी उपवास रखेंगे, मगर उपवास के कारण वह यहां आने से नहीं रुकेंगे." उन्होंने यहां रक्षा प्रदर्शनी 2018 की शुरुआत के बाद यह बात कही. इस प्रदर्शनी में भारत की हथियार विनिर्माण क्षमता को दर्शाया गया है.



केंद्रीय मंत्री जे पी नड्डा वाराणसी और रविशंकर प्रसाद पटना में उपवास रखेंगे. राजनाथ सिंह और धर्मेन्द्र प्रधान दिल्ली में, निर्मला सीतारमण चेन्नई में, प्रकाश जावडेकर बेंगलूरू में, एम जे अकबर विदिशा और के जे एलफांस केरल में उपवास करेंगे. प्रधानमंत्री ने बीजेपी के सांसदों, विधायकों से आडियो ब्रिज के माध्यम से संवाद के दौरान कहा,‘संसद को बंधक बना कर जिन्होंने लोकतंत्र का गला घोंटने का अपराध किया और राजनैतिक अहंकार एवं सत्ता की भूख से प्रेरित होकर देश को आगे नहीं बढ़ने दिया और संसद को चलने नहीं दिया. हम उन मुट्ठीभर लोगों की मानसिकता को देश के लोगों के समक्ष उजागर करेंगे.’


कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि वह उम्मीद करते हैं कि मोदी उत्तर प्रदेश में हाल में हिरासत में हुई मौत पर भी उपवास करेंगे. उन्होंने कहा, "उत्तर प्रदेश में एक पिता ने अपनी (दुष्कर्म पीड़िता) बेटी के लिए न्याय मांगा, तो उसके साथ जो बर्बरता की गई, उसने मानवता को शर्मसार किया है." राहुल ने ट्वीट किया, "हम उम्मीद करते हैं कि प्रधानमंत्री जल्द ही भाजपा शासन के तहत महिलाओं के खिलाफ अत्याचार, बढ़ती अराजकता को लेकर भी उपवास करेंगे." आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने कहा ‘कितना भद्दा ... और अब वह (मोदी) कहते हैं कि वह उपवास करेंगे. विपक्ष को गलत दिखाने तथा खुद को सही दिखाने की कोशिश हो रही है। क्या यह सही है? क्या यह उचित है ?’


भाजपा नेताओं के गुरूवार को प्रस्तावित उपवास करने को नकल बताये जाने के आरोपों को खारिज करते हुए राजस्थान के गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया ने कहा है कि भाजपा और उनके नेताओं को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की देखा देखी करने की जरूरत नहीं है और ‘हमारा जन्म राहुल से बहुत पहले हुआ है.’  एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने आज कहा कि क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों की खुदकुशी के मुद्दे और अपने झूठे वायदों का पश्चाताप करने के लिए उपवास करेंगे ? कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसद नहीं चलने के मुद्दे पर उपवास करने को फोटो खिंचवाने वाला अवसर बताया और उन्नाव बलात्कार मामले को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के इस्तीफे की मांग की.


रक्षा प्रदर्शनी का आयोजन तमिलानाडु में कावेरी प्रबंधन बोर्ड के गठन की मांग को लेकर उग्र प्रदर्शनों के बीच हो रहा है. प्रदेश में केंद्र सरकार के खिलाफ लोगों में इस बात को लेकर नाराजगी है कि उसने 'कावेरी जल विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों का पालन नहीं किया.' विपक्षी दल द्रमुक ने लोगों को मोदी के प्रदेश के दौरे के समय काली कमीज और साड़ी पहनकर विरोध जताने को कहा है. 
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment