अमित शाह से मुलाकात पर बोले उद्धव ठाकरे; जो कुछ भी हो रहा है, 'सब ड्रामा' है-day-after-amit-shah-came-calling-uddhav-thackeray

मुम्बई: नाराज सहयोगी पार्टी शिवसेना को मनाने के प्रयास के तहत भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के उद्धव ठाकरे से मुलाकात करने के एक दिन बाद शिवसेना प्रमुख ने गुरुवार (7 जून) को कहा कि अभी जो कुछ भी हो रहा है, वह ‘सब ड्रामा’ है. मुम्बई के पास पालघर में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए ठाकरे ने बुधवार (6 जून) की बैठक की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘अब जो कुछ भी हो रहा है वह सब ड्रामा है.’’ उल्लेखनीय है कि पालघर लोकसभा सीट के लिए हाल में हुए उपचुनाव में शिवसेना उम्मीदवार भाजपा उम्मीदवार से हार गया था. ठाकरे ने दावा किया कि हार का सामना करने वाले शिवसेना उम्मीदवार श्रीनिवास वानगा ने भाजपा को ‘‘डरा’’ दिया. बुधवार (6 जून) को भाजपा सूत्रों ने शाह-ठाकरे बैठक को ‘‘सकारात्मक’’ बताया था और दावा किया था कि दोनों सहयोगी दलों के बीच तनाव कम हुआ है. लेकिन गुरुवार (7 जून) को शिवसेना नेता संजय राउत ने इन अटकलों को खारिज करने का प्रयास किया कि इस बातचीत से दोनों दलों के बीच अगले लोकसभा चुनाव में गठबंधन बनाने में मदद मिलेगी. अमित शाह शिवसेना का फैसला नहीं बदल सकते : शिवसेना वहीं दूसरी ओर अमित शाह और उद्धव ठाकरे के बीच 6 जून को हुई मुलाकात के बाद भी दोनों दलों के बीच गतिरोध दूर नहीं होने का संकेत देते हुए शिवसेना ने जोर दिया कि अगला लोकसभा चुनाव अकेले लड़ने का उसका फैसला भाजपा अध्यक्ष द्वारा नहीं बदला जा सकता.शिवसेना नेता संजय राउत ने 7 जून को कहा, ‘‘पार्टी प्रमुख (शिवसेना) द्वारा लिया गया कोई फैसला किसी अन्य दल के अध्यक्ष द्वारा नहीं बदला जा सकता. सिर्फ शिवसेना या उद्धव ही पार्टी का फैसला कर सकते हैं.’’ उन्होंने जिक्र किया कि पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की जनवरी में हुयी बैठक में उद्धव ने घोषणा की थी कि पार्टी आगामी सभी चुनाव भाजपा के साथ गठबंधन किए बगैर लड़ेगी. राउत ने "अटकलों" को खारिज करने का प्रयास करते हुए कहा कि भाजपा और शिवसेना के बीच की बातचीत से अगले लोकसभा चुनावों के लिए उनका गठबंधन हो जाएगा. राउत ने भाजपा को दोषी ठहराते हुए कहा, ‘‘बाहर चल रही अटकलें सही नहीं हैं.’’ 6 जून की रात शाह और ठाकरे के बीच दो घंटे चली बैठक के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘दो नेताओं ने बंद कमरे में मुलाकात की. तीसरा व्यक्ति नहीं जान सकता कि क्या चर्चा हुई.’’
Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment