योगी आदित्यनाथ सरकार ने बड़ा प्रशासनिक फेर बदल करते हुए 41 आईएएस अफसरों का तबादला किया - uttar pradesh government transfer of 41 officers


लखनऊ:  यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने बड़ा प्रशासनिक फेरबदल किया है. यहां 41 आईएएस अफसरों का तबादला किया गया है. इस फेरबदल के तहत योगेश शुक्ला को राज्य संपत्ति अधिकारी बनाया गया है, जबकि राजीव रौतेला को गोरखपुर का जिला अधिकारी बनाया गया है. इसके अलावा आशीष गोयल को इलाहाबाद का कमिश्नर बनाया गया है. इससे पहले पिछले हफ्ते बुधवार को भी 20 आईएएस अफसरों का ट्रांसफर किया गया था. नए बदलाव के तहत डॉ प्रभात कुमार को नोएडा और ग्रेटर नोएडा का अध्यक्ष बनाया गया है. सत्येंद्र सिंह को वेटिंग लिस्ट में डाला गया है. 

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि ग्राम्य विकास विभाग के सचिव तथा राज्य कृषि उत्पादन मण्डी परिषद के निदेशक आशीष कुमार गोयल को इलाहाबाद का मण्डलायुक्त बनाया गया है. वह राजन शुक्ला का स्थान लेंगे, जिन्हें नागरिक सुरक्षा एवं राजनीतिक पेंशन विभाग के प्रमुख सचिव पद पर भेजा गया है. पंचायती राज विभाग के सचिव अमित गुप्ता को झांसी का मण्डलायुक्त बनाया गया है.वह के. राम मोहन राव का स्थान लेंगे जिन्हें आगरा मण्डल का आयुक्त नियुक्त किया गया है. राव को चंद्रकांत के स्थान पर भेजा गया है, जिन्हें राज्य मानवाधिकार आयोग लखनउ के सचिव पद पर भेजा गया है.



चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के सचिव तथा सिफ्सा के अधिशासी निदेशक आलोक कुमार-तृतीय को चित्रकूट का मण्डलायुक्त बनाया गया है. वरिष्ठ आईएएस संजय अग्रवाल को ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष पद के अतिरिक्त प्रभार से मुक्त करते हुए उर्जा विभाग के अपर मुख्य सचिव तथा उत्तर प्रदेश विद्युत निगम लिमिटेड के अध्यक्ष पद पर बरकरार रखा गया है।

नयी दिल्ली में तैनात उत्तर प्रदेश के स्थानिक आयुक्त प्रभात कुमार को मेरठ का मण्डलायुक्त बनाया गया है. साथ ही उन्हें ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष पद का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है. विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के प्रमुख सचिव हिमांशु कुमार को देवीपाटन मण्डल के आयुक्त पद पर भेजा गया है. वह सुधीर कुमार दीक्षित का स्थान लेंगे जिन्हें चिकित्सा शिक्षा विभाग के सचिव पद पर नयी तैनाती दी गयी है. 

राजस्व परिषद लखनउ के सदस्य पी. पी. जगनमोहन को बरेली का मण्डलायुक्त बनाया गया है. लखनउ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष सत्येन्द्र सिंह को हटाकर फिलहाल कोई तैनाती नहीं दी गयी है. उनके स्थान पर बस्ती के जिलाधिकारी प्रभु नारायण सिंह को लखनउ विकास प्राधिकरण का उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया है. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाओं के निदेशक (प्रशासन) अरविन्द कुमार सिंह को बस्ती का जिलाधिकारी बनाया गया है. अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी एवं निर्वाचन विभाग के सचिव अनिल गर्ग लखनउ के नये मण्डलायुक्त होंगे. अनीता भटनागर जैन को खेलकूद एवं युवा कल्याण विभाग के अपर मुख्य सचिव पद के अतिरिक्त प्रभार से मुक्त करते हुए चिकित्सा शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव पद पर बरकरार रखा गया है. सुरेश चन्द्र को ग्रामीण अभियंत्रण सेवा विभाग के प्रमुख सचिव पद से मुक्त करते हुए उन्होंने सिंचाई, जल संसाधन एवं परती भूमि विकास विभाग के सचिव पद पर बनाये रखा गया है. कानपुर के मण्डलायुक्त मुहम्मद इफ्तेखारउद्दीन को खेलकूद एवं युवा कल्याण विभाग तथा ग्रामीण अभियंत्रण सेवा विभाग का अपर मुख्य सचिव बनाया गया है.

उत्तर प्रदेश के श्रम आयुक्त तथा उत्तर प्रदेश वित्त विकास निगम के प्रबन्ध निदेशक पी. के. महान्ति को कानपुर का मण्डलायुक्त नियुक्त करते हुए उन्हें श्रम आयुक्त तथा उत्तर प्रदेश वित्त विकास निगम के प्रबन्ध निदेशक पद का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है. गोरखपुर की जिलाधिकारी संध्या तिवारी को माध्यमिक शिक्षा विभाग की विशेष सचिव बनाया गया है. तैनाती की प्रतीक्षा कर रहे राजीव रौतेला को गोरखपुर का जिलाधिकारी बनाया गया है. आवास विकास परिषद के सचिव रद्र प्रताप सिंह को हटाकर फिलहाल कोई तैनाती नहीं दी गयी है. राजस्व परिषद के आयुक्त एवं सचिव धीरज साहू को आवास आयुक्त एवं नगर भूमि सीमारोपण निदेशक बनाया गया है.



Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment